March 3, 2024

इन ड्रिंक्स के सेवन से कोलेस्ट्राल होगा कम

लेखक- अर्जुन झा (पत्रकार)

  • कोलेस्ट्रॉल एक लुब्रिकेन्ट की तरह होता है जिसका निर्माण लिवर के द्वारा किया जाता है

अगर आप कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखना चाहते हैं तो कुछ ड्रिंक को अपनीडाइट में शामिल करें। यह हार्मोन, विटामिन डी और बाइल जूस को भी बनाता है। गुड कोलेस्ट्राल को एचडीएल और बैड कोलेस्ट्रॉल को एलडीएल कहा जाता है। बढ़े हुए एलडीएल लेवल से आर्टिरीज के अंदर फैट बढ़ता है, यह हार्ट में रक्त संचार को ब्लॉक करता है। फाइबर इनटेक बढ़ाने, सैचुरेटेड फूड कम करने, प्लांट बेस्ड फूड्स लेने, रिफाइन फूड कम खाने और डाइट में ट्रांस फैट कम करने से कोलेस्ट्रॉल स्तर सही रहता है। कोलेस्ट्रॉल को हल्दी स्तर पर रखने से आपकी जिंदगी स्वस्थ और लंबी रहती है। कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने या बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल स्तर को नियंत्रण में रखने के लिए कुछ पेय पदार्थों की मदद ली जा सकती है। आइए विस्तार से उनके बारे में जानते हैं।

  • कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को कम करता है ओट्स ड्रिंक

कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को कम करने के लिए ओट मिल्क बहुत प्रभावशाली है। इसमें बीटा ग्लूकन नामक चीज होती है, जो गट में जेल जैसा पदार्थ बनाता है और बाइल सॉल्ट के साथ इंटरैक्ट करता है। शोध बताते हैं कि ओट डिंªक सेमी सॉलिड या सॉलिड ओट प्रोडक्ट की तुलना में कोलेस्ट्रॉल में अधिक कमी लाता है। रोजाना 3 ग्राम बीटा ग्लूकन का सेवन करना चाहिए, जिससे एलडीएल में 7 प्रतिशत कमी आ सकती है। एक कप ओट दूध में 1.3 ग्राम बीटा ग्लूकन होता है। इसलिए बीटा ग्लूकन की जांच करने के लिए ओट डिंªक लेबल की जांच करनी चाहिए।

  • ग्रीन टी बहुत फायदेमंद

ग्रीन टी में कैटचिन्स और अन्य एंटीऑक्सीडेंट कम्पाउन्ड होते हैं, ये बैड एलडीएल और टोटल कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने में मदद करते हैं। ब्लैक टी भी कोलेस्ट्रॉल पर असर डालते हैं लेकिन इसमें ग्रीन टी की तुलना में कम कैटचिन्स होते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि चाय में मौजूद कैटचिन्स की अलग-अलग मात्रा का मतलब है कि शरीर लिक्किड को अलग तरह से अवशोषित करता है।

  • सोय मिल्क में सैचुरेटेड फैट कम होता है

सोय मिल्क और क्रीमर लेने से कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने या संतुलित करने में मदद मिलती है। विशेषज्ञ सलाह देते हैं कि दिल के रोग के जोखिम को कम करने में मदद के लिए सैचुरेटेड फैट और कोलेस्ट्रॉल मंे कम डाइट के हिस्से के तौर पर रोजाना 25 ग्राम सोय प्रोटीन का सेवन करने की सलाह देता है।

  • कोकोआ ड्रिन्क बॉडी में बैड कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करता है

डार्क चॉकलेट का मुख्य इनग्रेडिएंट कोकोआ है, जिसमें फ्लेवनॉल नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह बॉडी में बैड कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने में मदद करता है। डार्क चॉकलेट का मुख्य इनग्रेडिएंट कोकोआ है, जिसमें मोनोसैचुरेटेड फैटी एसिड का उच्च स्तर रहता है। यह कोलेस्ट्रॉल स्तर को सुधारने में सहायक है। शोध बताते हैं कि 450 मिलीग्राम कोकोआ फ्लेवनॉल डिंªक का दिन में दो बार 1 महीने तक सेवन करने से बैड एलडीएल कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम करने और गुड एचडीएल कोलेस्ट्रॉल स्तर में सुधार आने में मदद मिलती है। कोकोआ में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड का हाई स्तर पाया जाता है, जिससे कोलेस्ट्रॉल स्तर में सुधार लाया जा सकता है। प्रोसेस किए हुए चॉकलेट से परहेज करना चाहिए, क्योंकि इनमें सैचुरेटेड फैट का उच्च स्तर रहता है।

  • कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए टमाटर का जूस फायदेमंद

टमाटर के जूस में प्रचुर मात्रा में लाइकोपीन होता है, जो लाइपिड स्तर में सुधार ला सकता है और बैड एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं। इसके साथ, शोध कहते हैं कि टमाटर को जूस बनाकर सेवन करने से लाइकोपीन कॉन्टेन्ट बढ़ता है। टमाटर के जूस में कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले फाइबर और नियासीन समृद्ध मात्रा में होते हैं। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट की अच्छी मात्रा भी होती है। यह एंटी ऑक्सीडेंट सेल डैमेज की सुरक्षा करने में मदद करता है। एक शोध में पाया गया कि जिन महिलाओं ने रोजाना 2 महीने तक 280 मिली टमाटर का जूस पिया, उनके ब्लड कोलेस्ट्रॉल स्तर में कमी पाई गई। इन प्रतिभागियों की उम्र 20 से 30 के बीच थी और इनका बॉडी मास इंडेक्स कम से कम 20 था।

  • प्लांट बेस्ड स्मूदी में पाये जाते हैं एनग्रेडिएंट

प्लांट बेस्ड मिल्क में ऐसे एनग्रेडिएंट पाए जाते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल स्तर को कम या कंट्रोल करने में मदद कर सकते हैं। सोय मिल्क या ओट मिल्क का इस्तेमाल करके स्मूदी बनाया जा सकता है। 1 कप सोय या ओट मिल्क यानी 250 मिली में कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले फल या सब्जियों को ब्लेन्ड करके सोय या ओट स्मूदी बनाया जा सकता है। इसमें 1 केला, 1 मुटठी अंगूर या प्रून्स, आम या मेलोन की 1 स्लाइस, 2 छोटे प्लम, 1 कप काले, 2/3 कददू की प्यूरी मिलाकर इसे तैयार किया जा सकता है। इंग्रेडिएंट्स को ओट मिल्क में मिलाकर स्मूदी बनाने से कुछ ही सैचुरेटेड फैट बचते हैं, जो अनियमित कोलेस्ट्रॉल स्तर के लिए जिम्मेदार होते हैं।

  • अल्कोहल सीमित मात्रा में लेने से कोलेस्ट्रॉल कम होता

शोध का कहना है कि सीमित मात्रा में अल्कोहल का सेवन ब्लड में एचडीएल स्तर को बढ़ा सकता है। यह गुड एचडीएल कोलेस्ट्रॉल स्तर को बढ़ाता है। सीमित मात्रा में कोलेस्ट्रॉल स्तर बढ़ाता है। सीमित मात्रा में अल्कोहल के सेवन का मतलब है कि महिलाओं के लिए रोजाना 1 अल्कोहलिक डिंªक और पुरूषों के लिए 2 अल्कोहलिक ड्रिंक अल्कोहल का कोलेस्ट्रॉल के स्तर पर जो प्रभाव हो सकता है, वह काफी हद तक कारकों पर निर्भर करता है जिसमें कोई व्यक्ति कितना पीता है, उसकी उम्र औ लिंग और वह किस प्रकार की शराब का सेवन करता है। हालांकि, हेवी ड्रिंकिंग से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है और अल्कोहल के सेवन से स्वास्थ्य संबंधी इतने जोखिम होते हैं कि इसके नकारात्मक प्रभाव इसके लाभ से अधिक हो जाते हैं। अल्कोहल की बात की जाए तो इसमें रेड वाइन सही चॉइस है क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। कई अध्ययन यह खुलासा करते हैं कि सीमित मात्रा में रेड वाइन के सेवन से न सिर्फ कोलेस्ट्रॉल स्तर कम होता है बल्कि कुछ खास तरह के हार्ट डिजीज से भी बचाव होता है।

  • कोलेस्ट्रॉल का सहायक बेरी स्मूदी

अधिकतर बेरी में एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइबर प्रचुर मात्रा में होता है, ये दोनों कोलेस्ट्रॉल स्तर को सही रखने में सहायता करता है। स्ट्रॉबेरी, रसबेरी, ब्लूबेरी और ब्लैकबेरी में खूब सारे एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर होते हैं। बेरी में कलिऑरी और फैट भी कम होता है। आधा कप लो फैट मिल्क या योगर्ट के साथ आधा कप ठंडे पानी में 80 ग्राम बेरी डालकर रोजाना शेक पीने से कोलेस्ट्रॉल स्तर ठीक रहता है।

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें और साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें लेन न्यूज से।

LEN NEWS

नमस्कार दोस्तो ! मैंने यह बेवसाइट उन सभी दोस्तों के लिए बनाई है जो हिंदी राष्ट्रीय खबरें, उत्तर प्रदेश की खबरें, बुन्देलखण्ड की खबरें, ललितपुर की खबरें, राजनीति, विदेश की खबरें, मनोरंजन, खेल, मेरी आप सबसे एक गुजारिश है कि आप सब मेरे पोस्ट को शेयर करें, कमेन्ट करें और मेरी वेबसाइट की सदस्यता लें, आगे के अपडेट के लिए इस बेवसाइट में बने रहें, धन्यवाद। Arjun Jha Journalist management director Live Express News

View all posts by LEN NEWS →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime